Maha Shivratri 2021: ऐसे स्री-पुरुष जिन्हे भूल कर भी नहीं करना चाहिए शिवरात्रि का व्रत |

Maha Shivratri 2021 :पूरे विस्व भर में महाशिवरात्रि का त्योहार 11 मार्च को मनाया जा रहा है। आज हम आपको बताएंगे  ऐसे 5 स्त्री/पुरुष जिन्हें  शिवरात्रि का व्रत नही रखना चाहिए।

अगर ऐसे लोग शिवरात्रि का व्रत रखते है या पूजा करते है तो भगवान शिव उनकी पूजा कभी भी स्वीकार नही करते । इसे शास्त्रो में घोर पाप माना जाता है। 

वेद पुराण में शिवरात्रि का बड़ा महत्व है पूरे भारत मे शिवरात्रि का पर्व बड़े ही धूम धाम से मनाया जाता है इसे खुशियो का पर्व भी माना जाता है कारण की इससे मन प्रसन्न हो जाता है ।
इस दिन जो भी भगवान शिव का व्रत रखता है और पूरे विधि विधान से पूजा करता है उसकी सभी मनोकामनाएं अवस्य पूरी होती है।

जानिए महाशिवरात्रि कब है इसकी पुजा विधि और क्यों मानते है महाशिवरात्रि |

साथ ही साथ सभी परेशानियां भी खत्म जो जाती है । इतना ही नही शिव गोरी की पूजा करने से मनचाहा वर या वधु की प्राप्ती होती है । भूल कर भी ना करे 5 स्त्री-पुरुष शिवरात्रि का व्रत।
इसी के साथ 5 ऐसी स्त्री,पुरूष को शिवरात्रि का व्रत भूल कर भी नही रखना चाहिए। जिससे भगवान शिव हो जाते है क्रोधित। और जीवन भर उस यक्ति को परेशानीयो का सामना करना पड़ता है। चलिए जानते है कोन है वो स्त्री और पुरुष जिन्हें नही करना चाहिए शिवरात्रि का व्रत।

ऐसे स्री-पुरुष जिन्हे भूल कर भी नहीं करना चाहिए शिवरात्रि का व्रत |

1.ऐसे पति पत्नी जिन्हीने नही लिए है सात फेरे।

Maha Shivratri 2021: ऐसे स्री-पुरुष जिन्हे भूल कर भी नहीं करना चाहिए शिवरात्रि का व्रत |
Maha Shivratri 2021: ऐसे स्री-पुरुष जिन्हे भूल कर भी नहीं करना चाहिए शिवरात्रि का व्रत |


पति पत्नी के लिए शिवरात्रि का व्रत रखना बहुत ही महत्वपूर्ण माना जाता है इस व्रत को पूर्ण रूप से करने से वैवाहिक जीवन सफल हो जाता है और सात जन्मों का साथ मिल जाता है ।

लेकिन क्या आप जानते है अगर अपने हिदू रीति-रिवाजों के साथ फेरे नही लिए तो आप शिवरात्रि का व्रत नही रख सकते ऐसे में आप दूर रहे। बिना 7 फेरे लिए कोई भी प्रेमी जोड़े इस व्रत को नही रख सकते ।

Maha Shivratri 2021:Shubh Muhurat and Puja Vidhi 2021

शास्त्रो में इस बात की बिल्कुल मनाही है अगर अपने कोट मैरेज भी की है तो आप इस व्रत को रखने में सझम नही है। पहले आप 7 फेरे लेले तभी इस व्रत को किआ जा सकता है । 7 फेरे लेने के बाद आप किसी भी धार्मिक कार्य मे सामिल भी हो सकते है और अगर आप शास्त्रो के विरुद्ध ऐसा करते है तो आप पाप के भागीदार बन सकते है ।

2. मन मे कुविचार वाले लोग।

maha shivratri 2021

मन मे कुविचार एक दुष्ट व्यक्ति शिवरात्रि के इस पवित्र महीने से हमेसा दूर रहे ऐसे व्यक्ति की पूजा कभी स्वीकार नही की जाती ।

शास्त्रो की माने तो अगर आपके मन मे कुविचार आते है और आप दूसरों के प्रति गलत भावना अपने मन मे रखते है ऐसे में आप हमेशा गन्दा सोचते है तो आप ऐसे में शिवरात्रि का व्रत कभी न रखे ।

3.तलाक सूदा व्यक्ति ।

3.तलाक सूदा व्यक्ति ।  तलाक सूद व्यक्ति को महाशिवरात्रि के पवित्र अवसर पर  शिव की अराधना नही करनी चाहिए।  क्योंकि यह दिन प्रेम का प्रतीक माना जाता है इसीलिए आप इस व्रत को कतई न रखे।  आपको बता दे जो प्रेमी जोड़े एक दूसरे से दूर रहते है तो उन्हें वक्त के चलते एक हो जाना चाहिए तभी ही इस्वर उनकी व्यक्ति स्वीकार करता है सास्त्र कहता है जब पती-पत्नी  जब साथ मिल कर शिव की अराधना करते है तो कई गुना फ्लो की प्राप्ति होती है।  ऐसे में आप अगर शिवरात्रि का व्रत रखना चाहते है तो सबसे पहले एक होना पड़ेगा । तभी महादेव कर पार्वती इनकी पूजा स्वीकार करते है। क्योंकि शिव और माता पार्वती का प्रेम अटूट है।  ऐसे में आप भी अपने पार्टर के साथ प्रेम भाव दिखाए।
maha shivratri 2021

तलाक सूद व्यक्ति को महाशिवरात्रि के पवित्र अवसर पर  शिव की अराधना नही करनी चाहिए।
क्योंकि यह दिन प्रेम का प्रतीक माना जाता है इसीलिए आप इस व्रत को कतई न रखे।

आपको बता दे जो प्रेमी जोड़े एक दूसरे से दूर रहते है तो उन्हें वक्त के चलते एक हो जाना चाहिए तभी ही इस्वर उनकी व्यक्ति स्वीकार करता है सास्त्र कहता है जब पती-पत्नी  जब साथ मिल कर शिव की अराधना करते है तो कई गुना फ्लो की प्राप्ति होती है।

ऐसे में आप अगर शिवरात्रि का व्रत रखना चाहते है तो सबसे पहले एक होना पड़ेगा । तभी महादेव कर पार्वती इनकी पूजा स्वीकार करते है। क्योंकि शिव और माता पार्वती का प्रेम अटूट है।
ऐसे में आप भी अपने पार्टर के साथ प्रेम भाव दिखाए। 

4.वैश्या की पूजा नही होती स्वीकार।


चडक्य के अनुसार एक वैश्या की पूजा भी इस्वर कभी स्वीकार नही करता यह शास्त्रो के विरुद्ध है ऐसा करने से माह पाप माना जाता है ऐसे में शिवरात्रि के इस पवित्र समय मे ऐसी महिलाओं को दूर रहना चाहिए।

5.कुवारी कन्याये।

यह गलती कभी मत करना पुराणों के अनुसार कुवारी कन्याओ को शिवलिंग कभी नही छूना चाहिए इसे पाप माना जाता है और कही जिस व्यक्ति के मन मे स्त्री के प्रति गन्दे विचार या वह व्यक्ति गालिया देता है तो ऐसे में उस व्यक्ति को भगवान शिव नरक में भी स्थान नही देते । 

ऐसे व्यक्ति की पूजा भगवान कभी स्वीकार नही करते  वही कुँवारी लडकिया शिवरात्रि का व्रत जरूर रखे ।
खास तौर से शिवरात्रि पर जब कोई कुवारी कन्या व्रत को पूर्ण करती है तो उसे महादेव जैसे पति की पप्राप्ती अवस्य होती है।

One thought on “Maha Shivratri 2021: ऐसे स्री-पुरुष जिन्हे भूल कर भी नहीं करना चाहिए शिवरात्रि का व्रत |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *